Advertisement
HomeGeneral Knowledgeमॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल और ओजोन परत के संरक्षण पर जीके प्रश्नोत्तरी

मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल और ओजोन परत के संरक्षण पर जीके प्रश्नोत्तरी

16 सितंबर को प्रतिवर्ष ओजोन क्षरण की रोकथाम के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया जाता है। मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल वह संधि थी जिस पर उसी उद्देश्य के लिए वियना कन्वेंशन के तहत हस्ताक्षर और पुष्टि की गई थी। निम्नलिखित प्रश्नों और उत्तरों को स्पष्टीकरण के साथ देखें और अपने ज्ञान का परीक्षण करें

  1. निम्नलिखित में से किसे मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल के सह-लाभ के रूप में सूचीबद्ध किया जा सकता है?
  1. हरित ईंधन का विकास
  2. CO2 उत्सर्जन में कमी
  3. वायु प्रदूषण में कमी
  4. खतरनाक अपशिष्ट आंदोलन

उत्तर। बी

व्याख्या: कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन में कमी एक ऐसी चीज है जो मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल से सह लाभ के रूप में सामने आएगी।

  1. मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल के बारे में निम्नलिखित में से कौन सा कथन सत्य है?

i) यह 1987 में किया गया एक अंतरराष्ट्रीय समझौता था

ii) इसे वियना कन्वेंशन के तहत माना जाता है

  1. सिर्फ में
  2. केवल ii
  3. मैं और ii . दोनों
  4. इनमे से कोई भी नहीं

उत्तर। सी

व्याख्या: मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल एक प्रोटोकॉल है जो वियना सम्मेलन के तहत बैठता है और 1987 में किया गया एक अंतरराष्ट्रीय समझौता है।

पढ़ें| दुनिया के शीर्ष 10 सबसे पुराने बसे हुए शहर: पूरी सूची और विवरण

  1. सार्वभौमिक अनुसमर्थन प्राप्त करने वाली संयुक्त राष्ट्र की पहली संधि कौन सी थी?
  1. बॉन कन्वेंशन
  2. मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल
  3. क्योटो प्रोटोकोल
  4. पेरिस कन्वेंशन

उत्तर। बी

व्याख्या: मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल पर 197 देशों द्वारा हस्ताक्षर किए गए थे और यह संयुक्त राष्ट्र की पहली संधि थी जिसकी पूरी तरह से पुष्टि की गई थी।

  1. मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल निम्नलिखित में से किस पर्यावरणीय मुद्दे को संबोधित कर रहा था?
  1. ग्लोबल वार्मिंग
  2. अम्ल वर्षा
  3. समताप मंडल में ओजोन की कमी
  4. वायु प्रदूषण

उत्तर। सी

व्याख्या: ओजोन परत की कमी, जलवायु परिवर्तन और ग्रीनहाउस उत्सर्जन के मुद्दों को संबोधित करने के लिए मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर किए गए थे।

  1. मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल का उद्देश्य है?

i) जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए संयुक्त राष्ट्र के सदस्यों के बीच सहयोग विकसित करना

ii) ओजोन क्षयकारी पदार्थों के उत्पादन और खपत को समाप्त करना

  1. सिर्फ में
  2. केवल ii
  3. मैं और ii . दोनों
  4. इनमे से कोई भी नहीं

उत्तर। बी

व्याख्या: ओजोन क्षयकारी पदार्थों पर मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल सबसे प्रभावशाली बहुपक्षीय पर्यावरण समझौते में से एक है जो ओजोन क्षयकारी पदार्थों नामक 100 से अधिक रसायनों के विकास को नियंत्रित करता है।

  1. क्या होगा अगर एक आर्द्रभूमि को मॉन्ट्रो रिकॉर्ड के तहत लाया जाता है?

i) आर्द्रभूमि के पारिस्थितिक स्वरूप में परिवर्तन हुआ है या मानवीय हस्तक्षेप के कारण हो सकता है

ii) इसे विश्व धरोहर स्थल का दर्जा प्राप्त है

  1. सिर्फ में
  2. केवल ii
  3. मैं और ii . दोनों
  4. इनमे से कोई भी नहीं

उत्तर। ए

व्याख्या: यदि मानवीय हस्तक्षेप के कारण आर्द्रभूमि में कोई परिवर्तन होता है या होने की संभावना है, तो इसे मॉन्ट्रो रिकॉर्ड्स में सूचीबद्ध किया गया है।

7. अंतर्राष्ट्रीय ओजोन संरक्षण दिवस कब मनाया जाता है?

  1. सितंबर 5
  2. अप्रैल 5
  3. 16 सितंबर
  4. 14 नवंबर

उत्तर। सी

व्याख्या: 16 सितंबर को दुनिया भर में ओजोन परत के संरक्षण के अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया जाता है।

  1. ओजोन वायुमण्डल की किस परत में मौजूद है?
  1. क्षोभ मंडल
  2. स्ट्रैटोस्फियर
  3. योण क्षेत्र
  4. A और B दोनों

उत्तर। डी

व्याख्या: पृथ्वी का लगभग 10% ओजोन क्षोभमंडल में है, जो सतह से लगभग १०-१५ किलोमीटर (६-९ मील) की ऊँचाई तक फैला हुआ है। पृथ्वी के ओजोन का लगभग 90% समताप मंडल में रहता है, जो क्षोभमंडल के शीर्ष और लगभग 50 किलोमीटर (31 मील) की ऊँचाई के बीच के वातावरण का क्षेत्र है।

  1. ओजोन छिद्र का क्या अर्थ है?

i) ऑरोरा रोशनी में दिखाई देने वाले आर्कटिक सर्कल के ऊपर ओजोन परत में छेद

ii) अंटार्कटिक सर्कल में देर से सर्दियों और शुरुआती वसंत में ओजोन का क्षरण

  1. सिर्फ में
  2. केवल ii
  3. मैं और ii . दोनों
  4. इनमे से कोई भी नहीं

उत्तर। बी

व्याख्या:अंटार्कटिक में देर से सर्दियों और शुरुआती वसंत में समतापमंडलीय ओजोन की गंभीर कमी को “ओजोन छिद्र” के रूप में जाना जाता है।

10. निम्नलिखित में से कौन ओजोन परत को प्रभावित कर सकता है?

  1. हेलोन्स
  2. ज्वालामुखी विस्फोट
  3. सौर विकिरण
  4. ऊपर के सभी

उत्तर। डी

व्याख्या: विभिन्न रसायनों द्वारा छोड़े गए हेलोन ओजोन परत को नष्ट कर देते हैं। साथ ही सौर विकिरण और ज्वालामुखी विस्फोट का भी ओजोन परत पर प्रभाव पड़ता है। सौर विकिरण में परिवर्तन और विस्फोटक ज्वालामुखी विस्फोट के बाद समताप मंडल के एरोसोल कणों का बनना ओजोन परत को प्रभावित करता है।

यह भी पढ़ें| ओजोन परत के क्षरण पर जीके प्रश्नोत्तरी

.

- Advertisment -

Tranding