Advertisement
Homeटिप्स – ट्रिक्सदिल्ली पुलिस को जिपनेट वेबसाइट पर सेकेंड हैंड फोन के लिए आईएमईआई...

दिल्ली पुलिस को जिपनेट वेबसाइट पर सेकेंड हैंड फोन के लिए आईएमईआई नंबर चेक करने की सलाह – Tech News hindi

हमारे देश में जितने नए फोन खरीदे जाते हैं, उतने ही सेकेंड हैंड स्मार्टफोन की बिक्री होती है। OLX और Quiker जैसी वेबसाइटों के ज़रिए इस्तेमाल किया हुआ फ़ोन खरीदना और भी आसान हो जाता है। हालांकि, सेकेंड हैंड फोन खरीदना कई बार आपको परेशानी में डाल सकता है। ऐसे कई मामले सामने आए हैं जहां चोरी के उपकरण ग्राहकों को बेचे गए। दिल्ली पुलिस ने ऐसे मामलों से बचने के लिए जनता को एडवाइजरी जारी की है।

इस वेबसाइट पर मिलेगी सारी जानकारी
दरअसल, दिल्ली पुलिस ने एक ट्विटर पोस्ट के जरिए सेकेंड हैंड फोन खरीदने वालों को सलाह दी है कि जब भी वे कोई डिवाइस खरीदें, तो उसे उसका IMEI नंबर वेरिफाई करना होगा। पुलिस ने IMEI नंबर चेक करने के लिए जिपनेट वेबसाइट का इस्तेमाल करने को कहा है। दिल्ली पुलिस ने लिखा, “सेकंड हैंड मोबाइल फोन खरीदने से सावधान रहें। हो सकता है कि इसका इस्तेमाल चोरी/अपराध के लिए किया गया हो। ऐसे फोन का आईएमईआई दिल्ली पुलिस द्वारा ज़िपनेट सिस्टम पर सूचीबद्ध है।”

यह भी पढ़ें: व्हाट्सएप ब्लू टिक ऑफ? कैसे पता करें कि आपका मैसेज पढ़ा गया है या नहीं

वेबसाइट पर IMEI नंबर कैसे चेक करें
बता दें कि IMEI या इंटरनेशनल मोबाइल इक्विपमेंट आइडेंटिटी एक 15 डिजिट का नंबर होता है, जो हर मोबाइल के लिए यूनिक होता है। यह डिवाइस के लिए फिंगरप्रिंट की तरह काम करता है। इसका उपयोग स्मार्टफोन चोरी होने की स्थिति में नेटवर्क पर डिवाइस की पहचान करने के लिए किया जा सकता है। तो आइए जानते हैं ज़िपनेट वेबसाइट पर IMEI नंबर कैसे चेक करें:

जब भी आप सेकेंड हैंड फोन खरीदें तो फोन में *#06# डायल करें।

इस नंबर पर डायल करने पर फोन का IMEI नंबर सामने आ जाएगा।

अब https://zipnet.delhipolice.gov.in/ वेबसाइट पर जाएं।

यह भी पढ़ें: किसी दोस्त का WhatsApp Status पसंद आया? चुटकी में ऐसे डाउनलोड करें

वेबसाइट पर दिए गए मिसिंग मोबाइल ऑप्शन पर क्लिक करें।

यहां आपको सर्च का ऑप्शन दिखाई देगा, उस पर क्लिक करें।

अब फोन का IMEI नंबर डालें और सर्च पर क्लिक करें।

अगर फोन चोरी हो गया था या किसी अपराध के लिए इस्तेमाल किया गया था, तो नंबर डेटाबेस में दिखाई देगा।

.

- Advertisment -

Tranding